upsc full form | UPSC का फुल फॉर्म क्या है

upsc full form | UPSC का फुल फॉर्म क्या है

 

हेल्लो दोस्तों आज हम बात करेंगे यूपीएससी के बारे में upsc full form क्या है यह कौन कौन से एग्जाम कंडक्ट करवाती है upsc के जो भी एग्जाम होते हैं

उनके लिए हमारी एलिजिबिलिटी क्या होनी चाहिए एज लिमिट क्या होनी चाहिए upsc एग्जाम्स के लिए तो इन सभी के बारे में यानी कि इन सभी प्रश्नों के उत्तर आपको इस आर्टिकल में मिलने वाले हैं

 

PSC Full Form in Hindi

पब्लिक सर्विस कमीशन हिंदी में कहें तो लोक सेवा आयोग

UPSC full form in Hindi

upsc ki full form क्या होता है यूपीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है आपने कई बार सुना होगा कि यूपीएससी टॉपर है यह यूपीएससी की तैयारी कर रहा है

यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम की तरह भी देख सकते हैं बात करेंगे यूपीएससी के अंतर्गत कौन-कौन सी नौकरियां में भर्ती निकलती है और यूपीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है

 

UPSC Full form online

यहां पर मैंने उन सभी प्रश्नों को लिखा है जिनके बारे में हम यहां पर डिस्कस करने वाले हैं सबसे पहले हम डिस्कस करेंगे यूपीएससी क्या है कि जिस चीज के बारे में

हम जाने वाले हैं सबसे पहले तो हम यही जानेंगे कि यूपीएससी है क्या उसके बाद जानेंगे कि यूपीएससी द्वारा आयोजित परीक्षाएं यानी कि कौन-कौन से एग्जाम दे सकते हैं

अगर हम यूपीएससी के बारे में बात कर रहे हैं तो सबसे पहले पी पीएसी के बारे में जान लेना जरूरी है पीएसी क्या होता है मैंने लिख दिया है और यहां पर मैं आपको बताता हूं

कि पहले हमें UPSC के बारे में जाने से पहले हमें यह जान लेना बहुत ज्यादा जरूरी होता है कि पीएसी है क्या इसका क्या मतलब होता है

 

PSC full form

psc का मतलब पब्लिक सर्विस कमीशन हिंदी में कहें तो लोक सेवा आयोग और यह सरकार यानी कि जो प्रथम श्रेणी होती है और दूसरी श्रेणी के अधिकारियों का चयन इसी संस्था के द्वारा किया जाता है और इस संस्था की स्थापना कब हुई थी

 

1 अक्टूबर 1926 में स्थापना तिथि 1 अक्टूबर 1926 को यानी की आजादी से पहले इसकी स्थापना हो गई थी उसके बाद यानी कि आजादी के बाद सन् 1950 में लोक सेवा आयोग में यानी कि पीएसी में कुछ बदलाव किए गए

 

UPSC Exam date 2021 Application Form

 

कुछ चेंज लाया गया पीएसी के जितने भी अधिकार थे उन अधिकारों में विस्तार करके इसे UPSC का नाम दे दिया गया इसी को हम हिंदी में कहेंगे संघ लोक सेवा आयोग

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के बाद में यूपीएससी के नाम से जाना जाता था 1 अक्टूबर 1926 में स्थापना हुई थी

 

UPSC full form in Hindi

 

और 26 अक्टूबर 1950 को इस के अधिकारों में विस्तार करके UPSC का नाम रख दिया गया यह होता है कि प्रथम श्रेणी के अधिकारियों और द्वितीय श्रेणी के अधिकारी का चयन करें या फिर सिविल सेवकों का भी

चयन करें के माध्यम से ही देश में आईएएस आईपीएस और इसके अलावा अन्य जो भी ग्रेड होते हैं और बी ग्रेड भर्ती की जाती है द्वारा ही की जाती है लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा है एग्जाम करवाती है

 

UPSC द्वारा कौन सी परीक्षा आयोजित की जाती है

upsc द्वारा आयोजित परीक्षा यानि जो upsc संस्था है ये कोन कोनसा एग्जाम करवाती है तो यहां पर मैंने एग्जाम के नाम भी लिख दिए हैं शॉर्ट फॉर्म में और फुल फॉर्म उन्हें क्या कहते

 

उन सभी के बारे में यहां पर बात किया है संघ लोक सेवा आयोग भारत की केंद्री संस्था है

ये संस्था सिविल परीक्षा IAS, IFS, NDA, CDS, SCRA, CSE, ESE से लगभग 24 पदों के लिए परीक्षा का आयोजन करवाता है और यह भारतीय और केंद्रीय समूह के जो A ग्रेड और B ग्रेड कर्मचारी होते हैं उनकी परीक्षाओं का जिम्मेदार एजेंसी है

 

UPSC exam date 2021

 

इन सभी एग्जाम में से आपको एग्जाम चुनना होता है आप कौन सा एग्जाम देंगे यह आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप आगे बढ़ना क्या चाहते हैं उस हिसाब से आपको इनमें से एग्जाम कोई भी देना होता है

 

UPSC Syllabus 2021

 

तो यह तो हो गया कि यूपीएससी कौन कौन से एग्जाम करवाती  है  मैं आपको बता भी देता  हूं कि कौन-कौन से स्टूडेंट एग्जाम  दे सकते हैं

अगर बात करें शैक्षणिक योग्यता की यानी की पढ़ाई के बारे में तो ऐसे छात्र जो अपना ग्रेजुएशन पूरा कर चुके हैं वह यूपीएससी  एग्जाम दे सकते हैं और ऐसे स्टूडेंट जो ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में है या फिर लास्ट सेमेस्टर में है तो वह भी यूपीएससी का एग्जाम दे सकते हैं

 

अब बात करें अगर एज की तो उम्र सीमा

और बात करें अगर एज की तो उम्र सीमा में दिया गया है कि यूपीएससी देने के लिए जो सामान्य वर्ग के लोग होते हैं सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों हेतु न्यूनतम वर्ष 21 होता है यानी कि कम से कम 21 वर्ष और ज्यादा से ज्यादा 32 वर्ष 32 वर्ष के बाद एग्जाम नहीं दे सकते हैं

 

उसके बाद दूसरे नंबर पर बात करते हैं ST- SC वालों के लिए तो ST- SC उम्मीदवारों को 5 वर्ष की छूट दी जाती है कि जो ST- SC वाले लोग हैं यह 37 वर्स एग्जाम दे सकते हैं

 

और इसके बाद जो और भी पिछड़े हुए वर्ग होते हैं उन सभी के बारे में बात करते हैं तो अन्य पिछड़े वर्ग छात्रों को 3 वर्ष यानी कि 3 साल की उम्र सीमा में छूट दी जाती है कि यह लोग 35 वर्ष तक यूपीएससी का कोई सा भी एग्जाम दे सकते हैं

 

तो यह तो हो गया की एज क्या होनी चाहिए और एग्जाम देने के लिए और क्या होनी चाहिए यूपीएससी एग्जाम देने के लिए तो इसके बाद

अब हम जानते हैं कि परीक्षा के मौके कितने होते हैं तो यहां परीक्षा के मौके भी

श्रेणी के आधार पर बैठे हुए हैं जैसे कि अगर कोई जनरल केटेगरी का है सामान्य श्रेणी में आता है तो उसको 6 चांस मिलते हैं यूपीएससी एग्जाम में बैठने के लिए दिए जाते हैं

 

OBS कैटेगरी के लोगों के लिए 9 चांस मिलते हैं

अन्य कैटेगरी के लोग जो पिछड़े वर्ग के लोग उनके लिए असीमित है यानि वो जितनी बार चाहये एग्जाम दे सकते लेकिन 35 वर्स के ऐज तक दे सकते है 35 वर्स के बाद एग्जाम नहीं दे सकते

 

SSC full form | SSC क्या है पूरी जानकारी | CGL full form

PNR Full Form | PNR फुल फार्म क्या होता है

Meme Meaning in Hindi | Meme कैसे बनाते है | Indian Memes

 

Leave a Comment